जनाब!

कोर्ट रूम हथौड़ा प्राधिकार का प्रतीक है।
न्यायिक कार्यवाही को रोक देने और
शान्त व्यवस्थित करने में सटीक है।
लोकतंत्र का तीसरा स्तम्भ न्यायपालिका
क्या भारत में सम्प्रभु और निर्भीक है?

*जज_लोया_की_आत्मा*

PC – गूगल