जैसे महासागर में प्लास्टिक
वैसे आदमी के शरीर में चीनी।

कोसी के बाढ़ सी व्याप्त
अलग अलग आवरण में,
अगणित स्रोतों से
अविराम अंतर्ग्रहण,
शरीर को शिथिल,
रुग्ण करती चीनी।

सल्फर डाई ऑक्साइड,
फास्फोरिक एसिड,
कैल्शियम हैड्रॉक्साइड,
सक्रिय कार्बन युक्त
भारतीय चीनी।

घातक लत
अतृप्त लालसा
अतिक्रमण स्वाद पर
समस्त व्याधियों की जड़
आर्थिक अधोगति
लड़ाई का कारण बनती चीनी।

जैसे महासागर में प्लास्टिक
वैसे आदमी के शरीर में चीनी।

सल्फर डाई ऑक्साइड,
फास्फोरिक एसिड,
कैल्शियम हैड्रॉक्साइड,
सक्रिय कार्बन युक्त
अप्राकृतिक चीनी।

मधुमेह, मोटापा, ह्रुदयरोग,कैंसर
के उपहार बाँटती
रोगी बनाती
सेरोटोनिन के फील गुड हार्मोन
का षड्यंत्र रचाती
मृग मरीचिका सी
अप्राकृतिक चीनी।

जैसे महासागर में प्लास्टिक
वैसे आदमी के शरीर में चीनी।

सल्फर डाई ऑक्साइड,
फास्फोरिक एसिड,
कैल्शियम हैड्रॉक्साइड,
सक्रिय कार्बन युक्त
अप्राकृतिक चीनी।

नोचती तन से विटामिन बी
खसोटती रुधिर के कैल्शियम
दुबर्ल कुंतल, बलहीन दसन
निर्बल अस्थियाँ, मरियल पाचन
क्रोमियम की कमी के कारण
अतृप्त तृष्णा बनती चीनी

जैसे महासागर में प्लास्टिक
वैसे आदमी के शरीर में चीनी।

सल्फर डाई ऑक्साइड,
फास्फोरिक एसिड,
कैल्शियम हैड्रॉक्साइड,
सक्रिय कार्बन युक्त
अप्राकृतिक चीनी।

Pragya Mishra
25/Feb/2021
9.16 am

*चीनी- शर्करा , *कुंतल – बाल, *दसन-दांत

No sugar

Join Channel https://t.me/shtadal

साभार – TOI