शतदल

जो मराल मोती खाते हैं, उनको मोती मिलते हैं।

Anchor FM

इन्नर साहित्य संकलन से नज़्म सुभाष जी की कहानी अधूरी ख़्वाहिश का वाचन शतदल

सुनिये अपने ज़माने में लखनऊ की जान रहीं उमराव जान और शहनाई वादक बिस्मिल्लाह खान की काल्पनिक बात चीत आधारित कहानी ।
  1. इन्नर साहित्य संकलन से नज़्म सुभाष जी की कहानी अधूरी ख़्वाहिश का वाचन
  2. अनवर जलालपुरी द्वारा गीता अनुवाद के अंश
  3. Hindi Podcast on the occasion of Gandhi Jayanti
  4. Happy podcast day
  5. इन्नर से नवीन झा की कहानी लाज
%d bloggers like this: